EV Fact: क्या सच में ठंड के दिनों में इलेक्ट्रिक कार कि रेंज हों जाती हैं कम? जानें डिटेल

Electric Vehicle Range Reduces in Winter Season: हमारे देश भारत के उत्तरी हिस्सो में सबसे ठंड रहता है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार हर साल वहां का तापमान करीब 4 से 5 डिग्री से नीचे गिर सकता है। ऐसे में वहां रहने वालो लोगो को काफी मुश्किल होता है। इसके अलावा इन सब इलाकों में इलेक्ट्रिक व्हीकल रखने वालो लोगो भी भी काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। आइये जानते है ठंड में मौसम में इलेक्ट्रिक व्हीकल के रेंज और चार्जिंग टाइम पर क्या प्रभाव पड़ता है।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

बैटरी पर क्या होगा असर?

ऐसा देखा गया है की ठंड के दिनों में लिथियम-आयन बैटरी ज्यादा प्रभावी नहीं माने जाते है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें लिथियम बैटरी के अंदर रासायनिक रिएक्शन कर कार को एनर्जी प्रदान करती है। इसके बाद यह एनर्जी बैटरी में मौजूद एनोड से कैथोड तक जाते हैं और कार को बेहतर रेंज देने में मदद करता है।

लेकिन जहां की तापमान कम हो उन इलाके में यह बैटरी के अंदर रासायनिक रिएक्शन कर काफी प्रभाव देखने को मिलता है। अमेरिकन ऑटोमोबाइल एसोसिएशन के रिसर्च के मुताबिक, ज्यादा ठंड में वाहन चलाते समय इलेक्ट्रिक वाहन की रेंज अपनी लिमिट का 12 प्रतिशत तक खो सकते हैं।

चार्जिंग टाइम पर क्या प्रभाव पड़ता है

इससे साथ ही ठंड के दिनों में ईवी बैटरी चार्जिंग के समय में भी काफी अंतर देखने को मिलता है। ऐसा कहा जाता है कि EV पर फुल चार्ज होने में लगने वाला समय को ठंड के आधार पर 400 प्रतिशत तक बढ़ सकता है।

लेकिन ईवी वाहन मैन्युफैक्चरर कंपनी दावा करती हैं की ऐसा कुछ भी नही है। हम सब ठंड के दिनों में भी में बेहतर प्रदर्शन के लिए ईवी में प्रयुक्त होने वाले बैटरी के साथ ऑक्जीलरी हीट पंप लगते है ताकि कम तापमान पर भी कोई समस्या न हो।

आप क्या कर सकते हैं?

अगर आप भी ठंड के दिनों में भी ऑफिस जाने आने या डेली यूज के लिए ईवी का उपयोग करते है तो सबसे पहले वाहन चालू करने से पहले बैटरी को गर्म करने की कोशिश करे जिससे आपको बेहतर रेंज मिल सके। इसके लिए आप हीटर चालू कर लें, खिड़कियों को डीफॉस्ट करें और गर्म हवादार सीटों पर स्विच करें।

Rajeev Ranjan - editor of the blog Ecovahan. Currently Pursuing B.Tech (Electrical Engineering). Intersted in EVs and Loves automobile.

Leave a Comment