FASTag का इस्तेमाल करने वालों के लिए बड़ी खबर, 31 जनवरी तक निपटा लो ये काम वरना लगेगा दोगुना टोल

FASTag KYC : मौजूदा समय में फास्टैग के बिना गाड़ी चलाना काफी कठिन है। अधिकांश रोडों पर टोल का भुगतान करने के लिए फास्टैग का उपयोग अनिवार्य है। यदि आपकी गाड़ी में यदि फास्टैग लगा हुआ है, तो 31 जनवरी तक उसकी केवाईसी (Know Your Customer – KYC) प्रक्रिया पूरी कराएं।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें Join Now

Telegram चैनल ज्वाइन करें Join Now

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने घोषणा की है कि इस बैंकों द्वारा अक्टूबर 2021 के बाद से केवाईसी पूर्ण नहीं कराई गई फास्टैग को 31 जनवरी के बाद निष्क्रिय या ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा। इससे आप टोल बूथ पर फास्टैग का उपयोग करके भुगतान करने में सक्षम नहीं होंगे। ऐसे में आपको बिना फास्टैग के टोल पर दोगुना टैक्स देना पड़ सकता है।

किसी भी परेशानी से बचने के लिए कराएं KYC

परेशानी से बचने के लिए, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपका नवीनतम फास्टैग का केवाईसी पूरा हो गया है। NHAI द्वारा जारी बयान में यह बताया गया है कि केवल नवीनतम फास्टैग अकाउंट ही एक्टिव रहेगा।

fastag-kyc-related-complete-details
fastag-kyc-related-complete-details

इसके लिए, यदि आपको आगे की सहायता या कोई प्रश्न हो, तो फास्टैग यूजर अपने निकटतम टोल प्लाजा या अपने संबंधित जारीकर्ता बैंकों के टोल-फ्री ग्राहक सेवा नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। बयान में यह भी उजागर किया गया है कि कभी-कभी फास्टैग को जानबूझकर वाहन की विंडशील्ड पर नहीं लगाया जाता है, जिससे टोल प्लाजा पर अनावश्यक देरी होती है।

करना होगा “एक वाहन एक फास्टैग” का पालन

NHAI के बयान के अनुसार, किसी भी प्रकार की असुविधा से बचने के लिए उपयोगकर्ताओं को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके नवीनतम फास्टैग का KYC पूरा हो गया है। इसके साथ ही उपयोगकर्ताओं को ‘एक वाहन, एक फास्टैग’ का भी पालन करना होगा और अपने बैंकों के माध्यम से पहले जारी किए गए सभी फास्टैग को हटाना होगा। बयान में यह भी कहा गया है कि केवल नवीनतम फास्टैग अकाउंट ही एक्टिव रहेगा, क्योंकि पिछले फास्टैग 31 जनवरी, 2024 के बाद निष्क्रिय या ब्लैकलिस्ट कर दिए जाएंगे।

फास्टैग के 8 करोड़ से अधिक यूजर

देशभर में आठ करोड़ से अधिक वाहन चालक फास्टैग का उपयोग कर रहे हैं, जो कुल वाहनों का लगभग 98 प्रतिशत है। इस डिजिटल सिस्टम ने देश में इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली की रफ्तार को काफी तेज कर दिया है। एनएचएआई ने यह कदम एक वाहन के लिए कई फास्टैग जारी किए जाने और आरबीआई की हालिया रिपोर्ट्स के बाद उठाया है जिसमें कहा गया था कि आरबीआई के नियमों का उल्लंघन करते हुए कई फास्टैग जारी किए जा रहे हैं।

🔥Instagram Account👉 यहाँ क्लिक करे
🔥Home Page 👉 यहाँ क्लिक करे

Rahul hails from Patna, Bihar, and is a highly driven individual with a background in Computer Science Engineering. He is a passionate blogger, known for his profound enthusiasm for automobiles, particularly electric vehicles (EVs). As the founder of the blog "Ecovahan," Rahul shares his knowledge and insights on the world of sustainable transportation and cutting-edge automotive technology. Contact [email protected]

Leave a Comment

Join Whatsapp