Thunderbolt EV: जायेश ठक्कर का महत्वकांक्षी योजना, गुजरात में सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक व्हीकल इंडस्ट्री स्थापित करना

Thunderbolt EV: गुजरात में जहां एक तरफ इलेक्ट्रिक वाहनों की मार्केट काफी तेजी के साथ ग्रो कर रही है। वहीं दूसरी तरफ एक व्यवसाय मालिक अपना ईवी हब एस्टेब्लिश करने की फिराक में हैं। Thunder Bolt EV के संस्थापक और Ceo जयेश ठक्कर अपने सपने को साकार करने के लिए और इलेक्ट्रिक कार का निर्माण करने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं।

जायेश ठक्कर का महत्वकांक्षी योजना

जयेश ठक्कर को इलेक्ट्रिक व्हीकल्स काफी पसंद हैं क्योंकि उन्हें लगता है की भविष्य और पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के लिए ऑटो उद्योग को बदलना ही होगा। उन्हें अपने पूरे सपने पर यकीन है कि वह इस इलेक्ट्रिक सेक्टर की ग्रोथ में बड़ा बदलाव ला सकते हैं क्योंकि उन्हें मैन्युफैक्चरिंग का काफी अनुभव है और इलेक्ट्रिक मार्केट की गहरी समझ भी है।

Thunderbolt EV

सस्ते कीमत पर उच्च गुणवत्ता वाले ईवी का निर्माण

प्रस्तावित रूप से गुजरात में वह अपना इलेक्ट्रिको वाहन का कारखाना खोलने वाले हैं। यह कारखाना कुशल लेबर, प्रमुख परिवहन मार्ग और एक प्रमुख औद्योगिक केंद्र के कंपेटिबल होने वाला है। यहां पर आधुनिक तकनीक और आधुनिक उपकरण का इस्तेमाल करते हुए उच्च गुणवत्ता वाले इलेक्ट्रिक व्हीकल को काफी सस्ती कीमत पर तैयार किए जाएंगे।

इलेक्ट्रिक कार के साथ-साथ जयेश ठक्कर का यह महात्कांक्षी योजना यहीं तक सीमित नहीं है। वो आगे चलकर इस हब को नई तकनीक अनुसंधान केंद्र बनाने का सोच रखे हैं। जहां पर विशेषज्ञों की एक कुशल टीम तकनीकों को विकसित करने और इलेक्ट्रिक वाहनों के क्षेत्र में प्रगति करने का काम करेगी।

ड्रीम प्रोजेक्ट के क्षेत्र में एक कदम

इसके साथ-साथ वहां कुशल कारीगरों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी पर्यावरण की मदद करने के साथ-साथ ठक्कर के ड्रीम प्रोजेक्ट से क्षेत्र की अर्थव्यवस्था को भी काफी मदद मिलेगी। इलेक्ट्रिक वाहन कारखाना ढेर सारी नौकरियां उपलब्ध कराएगा अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में मदद करेगा और साथ ही साथ यह क्षेत्र में अधिक निवेश भी लाएगा।

जयेश ठक्कर को अपने सपने को साकार करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी और इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रति बिल्कुल पूरी तरीके से जुनूनी होना होगा। उन्हें यकीन है कि वह गुजरात का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक विनिर्माण संयंत्र बनाने में सक्षम हो जाएंगे। यह परियोजना एक हरित और अधिक स्थाई भविष्य की दिशा में एक बड़ा कदम होने वाला है जिसे लेकर ठक्कर साहब काफी उत्सुक भी हैं।

Last Words

अंततः आपको यह बताना चाहते हैं कि जयेश ठक्कर की ड्रीम प्रोजेक्ट यह दिखाता है कि कितनी मेहनत और लगन से काम किया जा सकता है गुजरात की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक वाहन फैक्ट्री स्थापित करने से ना केवल इस उद्योग को बढ़ने में मदद मिलेगी बल्कि यहां पर्यावरण और स्थानीय अर्थव्यवस्था को भी अच्छा लाभ होगा।

Rahul hails from Patna, Bihar, and is a highly driven individual with a background in Computer Science Engineering. He is a passionate blogger, known for his profound enthusiasm for automobiles, particularly electric vehicles (EVs). As the founder of the blog "Ecovahan," Rahul shares his knowledge and insights on the world of sustainable transportation and cutting-edge automotive technology. Contact rahul@ecovahan.com

Leave a Comment