Fastag को लेकर बड़ी उपडेट! अब इस नए तरीके से कटेगा Toll Tax, जानें कहाँ से होगी शुरुआत

जैसा की हम सभी को पता है हर नेशनल और स्टेट हाईवे पर वाहन को एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए टोल प्लाजा (toll plaza) पर टोल टैक्स देना पड़ता है। लेकिन इस टोल टैक्स का भुगतान लोग सड़क पर लगे टोल बूथ के माध्यम से या फिर फास्टैग के माध्यम से करते हैं।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें Join Now

Telegram चैनल ज्वाइन करें Join Now

ऐसे में टोल बूथ पर टोल टैक्स देने के लिए गाड़ियों के लंबे कतार लग जाते थे। तब उसके बाद फास्टटैग का चलन बढ़ा। लेकिन अब सरकार एक और नया तरीका लेकर आई है जिसे टोल टैक्स का भुगतान किया जाएगा।

toll tax new rule update today
toll tax new rule update today

अब जीपीएस तकनीक से कटेगा टोल टैक्स

नेशनल हाईवे यानी राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने वालों के लिए अच्छी खबर है क्योंकि अब टोल प्लाजा खत्म कर जीपीएस तकनीक से टोल टैक्स जुटाने की तैयारी में एक कदम और बढ़ा दिया है। 

इसका मतलब है कि अब टोल टैक्स का कलेक्शन जीपीएस के जरिये किया जाएगा। ऐसे में इस सिस्टम के जरिए यात्रियों को यात्रा की गई किलोमीटर की संख्या के हिसाब से शुल्क का भुगतान करना सुनिश्चित करना होगा।

इन नेशनल हाईवे पर किया जा रहा इंस्टॉल

इस तरीके से टोल टैक्स की वसूली दिल्ली-जयपुर हाईवे (NH 48) और बेंगलुरु-मैसूर एक्सप्रेसवे पहले दो ऐसे राजमार्ग होंगे, जहां जीपीएस-आधारित टोलिंग प्रणाली की शुरुआत होने वाली है। इसकी शुरुआत इसी महीने मार्च से होने वाली है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जीपीएस टोल प्रणाली की तैयारी का काम शुरू हो गया है और यात्रा के लिए तय की गई दूरी और यात्रा के लिए लगने वाले टोल टैक्स (Toll Tax) की सटीक गणना के लिए दिल्ली-जयपुर खंड की बेहतर जियोफेंसिंग शुरू हो गई है। इसका मतलब है कि अब टोल टैक्स का कलेक्शन जीपीएस (GPS) के माध्यम से होगा और फास्टैग बंद हो जाएंगे। 

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin gadkari) ने बताया कि केंद्र सरकार ने भारत में सभी टोल बूथों को हटाने और वाहनों के लिए जीपीएस-सैटेलाईट बेस्ड टोल कनेक्शन सिस्टम (GPS-Satellite Based Toll Connection System) लागू करने का फैसला किया है।

🔥Instagram Account👉 यहाँ क्लिक करे
🔥Home Page 👉 यहाँ क्लिक करे

Rajeev Ranjan, an accomplished author and visionary thinker with a B.Tech degree in Electrical Engineering, brings a dynamic blend of technical expertise, unwavering passion for electric vehicles (EVs). Contact: [email protected]

Leave a Comment