इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने वाली कंपनियों पर गहराया संकट, इन कारणों से बढ़ सकती है कीमतें

इलेक्ट्रिक व्हीकल का डिमांड हमारे देश के साथ साथ पूरे वर्ल्ड में भी काफी तेजी से फैल रहा है। इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने वाली कम्पनी ज्यादातर अपने इलेक्ट्रिक व्हीकल की बैटरी बनाने में लिथियम का उपयोग करती है। लेकिन इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स के प्रोडक्‍शन में तेजी की वजह से लिथियम की मांग लगातार बढ़ी है। लेकिन दुनियाभर में इसकी सप्‍लाई का संकट है।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

रॉयटर्स रिपोर्ट्स के मुताबिक, सर्बिया की सरकार ने गुरुवार को एंग्लो-ऑस्ट्रेलियाई खनन कंपनी रियो टिंटो पीएलसी (Rio Tinto Plc) के लिथियम प्रोजेक्‍ट बनाने पर रोक लगा दिए गए है लाइसेंस भी कैंसल कर दिया। 

ev price increase

यह भी पढ़ें: Honda लॉन्च करने जा रही है जबरदस्त स्कूटर, जाने अभी फीचर्स

नमकीन खदानों से निकलता है लिथियम

जानकारी के लिए आपको बता दे की लिथियम, हार्ड रॉक या नमकीन खदानों से निकलता है। ऐसे में अर्जेंटीना, चिली और चीन नमक की झीलों से इसका प्रोडक्‍शन कर रहे हैं। लेकिन अभी तक ऑस्ट्रेलिया हार्ड रॉक सप्लायर में दुनिया का सबसे बड़ा सप्‍लायर है।

🔥  Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे
🔥 Telegram Group👉 यहाँ क्लिक करे

एक रिपोर्ट की माने तो लिथियम कार्बोनेट का कुल वैश्विक उत्पादन दिसंबर में 2021 में 485,000 टन था। 2022 में यह बढ़कर 615,000 टन और 2023 में 821,000 टन होने का अनुमान लगाया गया था। पर ऐसा दावा किया जा रखा है की 2022 में लिथियम का प्रोडक्‍शन 588,000 टन और 2023 में 736,000 टन हो सकता है।

यह भी पढ़ें: स्कूल-कॉलेज जाने के लिए बेस्ट होगा ये इलेक्ट्रिक स्कूटर, जानें कीमत और स्मार्ट फीचर्स

लेकिन इलेक्ट्रिक व्हीकल की डिमांड से कंपेयर करें तो इसका प्रोडक्शन काफी कम है। इसलिए ऐसा माना रहा है की आने वाले दिनों में लिथियम का बहुत गहरा संकट आने वाले है। जिसके कारण आपके इलेक्ट्रिक व्हीकल की भी दाम बढ़ सकते है।

दुनिया की सबसे बड़ी लिथियम खदानें

  • ग्रीनबुश (वेस्‍टर्न ऑस्ट्रेलिया)। यहां सालाना 1.34 मिलियन टन तक प्रोडक्‍शन हो सकता है।
  • पिलगांगूर (वेस्‍टर्न ऑस्ट्रेलिया)। जून 2022 तक यहां 400,000-450,000 टन प्रोडक्‍शन की उम्‍मीद है। 
  • माउंट कैटलिन (वेस्‍टर्न ऑस्ट्रेलिया)। यहां खनन कर रही कंपनी ने 2021 में 230,065 टन स्पोड्यूमिन कॉन्संट्रेट का प्रोडक्‍शन किया।

यह भी पढ़ें: इन तरीकों से अपने पुराने पेट्रोल व डीजल बाइक और स्कूटर को इलेक्ट्रिक स्कूटर में बदलें

  • मिब्रा (ब्राजील)। यहां हर साल 90,000 टन स्पोड्यूमिन का प्रोडक्‍शन किया जाता है। 
  • माउंड मैरिओन (वेस्‍टर्न ऑस्ट्रेलिया)। यहां जून 2022 तक 450,000-475,000 टन स्पोड्यूमिन का प्रोडक्‍शन होने की उम्‍मीद है।

यह भी पढ़ें: 145 Km रेंज वाली Trigo BX4 इलेक्ट्रिक बाइक होगी लॉन्च, जानें कितनी होगी कीमत

🔥  Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे
🔥 Telegram Group👉 यहाँ क्लिक करे

यह भी पढ़ें: ईवी मार्केट में धूम मचाने आ रही है Mahindra की इलेक्ट्रिक स्कूटर, ओला इलेक्ट्रिक से होगी सीधी टक्कर

From (Patna, Bihar) Rahul is the founder of blog Ecovahan. Computer Science Engineer and Passionate Blogger. संकल्प करें इलेक्ट्रिक चुनें

Leave a Comment

बजाज लॉन्च करने जा रही है दमदार नयी Electric Scooter, जानें कीमत और फीचर्स मात्र 20 रुपये में चलेगी 135 किमी, डीजल पेट्रोल की टेंशन छोड़ो ना रुकेगा न झुकेगा! मार्केट में सेल्फ बैलेंसिंग Electric Scooter ने मचाया धमाल आखिर क्यों आता है Electric Vehicles के वास्तविक रेंज और दावों के बिच अंतर? मात्र 5,999 रूपये के खर्च में पुरानी साइकिल को बनायें इलेक्ट्रिक, जानें कैसे