Electric Scooter की डीलरशिप कैसे ले? और इवी डीलर कैसे बनें | How to Become Electric Vehicle Dealer in India – Apply Form

इलेक्ट्रिक वाहनों की डीलरशिप कैसे लें, इवी डीलर कैसे बनें, How to Become Electric Vehicle Dealer in India, इलेक्ट्रिक व्हीकल डीलर बनने के फायदे, नुकसान, बजट, मापदंड (Electric Vehicle Dealer in Hindi, profit-margin, budget, loss, investment, document, requirements), Electric Scooter की डीलरशिप कैसे ले? – Apply Form Full Details | Electric Scooter Dealership In India – How to Apply

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Electric Scooter Dealership In India Full Details – How to Apply: भारत में लगातार इलेक्ट्रिक वाहनों को लेकर लोगों में क्रेज और डिमांड बढ़ती जा रही है। एक्सपर्ट्स की मानें तो अगले 5 सालों में इलेक्ट्रिक हाइब्रिड व्हीकल्स कुल 40-50 फीसदी का हिस्सा कवर कर लेंगे। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) के डाटा अनुसार, भारत नें फिलहाल 9,74,313 पंजीकृत इलेक्ट्रिक वाहन हैं। आगामी 5 साल में इसकी संख्या में काफी इजाफा होगा और ये सच में एलेक्ट्रिक ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को एक अलग लेबल पर ले जाएगा।

ऐसे में देखा जाए तो कई ऑटोमोबाइल के शौक़ीन लोग इस व्यवसाय को काफी सफल मान रहे हैं इलेक्ट्रिक व्हीकल में ही अपना फ्यूचर देख रहे हैं। इस फील्ड में सफल होने की इच्छा रख रहे लोग खुद की ऑटोमोटिव फ्रैंचाइज़ी खोलने का सोच भी रहे हैं। आज के समय में ऑटोमोटिव उद्योग फ्रेंचाइज़िंग सेगमेंट निवेशकों के साथ आय का भी एक बड़ा स्रोत बनते जा रहा है।

सरकार की तरफ से भी एलेक्ट्रिक व्हीकल्स इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए एक से बढ़कर एक योजनाएं लाई जा रहीं और इसमें कई प्रकार के छूट भी मिल रही है, ताकि लोग इलेक्ट्रिक वाहनों की तरफ आकर्षित हों। यदि आप भी खुद को एक उद्यमी के रूप में विकसित होते हुए देखना चाहते हैं तो इस इंडस्ट्री को जरूर अपनाइये और अपनी कमाई का स्रोत बनाइये।

यह भी पढ़ें: बेस्ट इलेक्ट्रिक स्टॉक्स के बारे में Best EV Stocks In India 2022पूर्ण जानकारी

इस पोस्ट में आइये हम सब जानते हैं कि इलेक्ट्रिक वाहनों की डीलरशिप कैसे लें और इवी डीलर कैसे बनें? इसके अलावा इवी डीलर बनने के मापदंड, खर्चे, फायदे, नुकसान, बजट, निवेश के बारे में भी जानेंगें। Electric Scooter की डीलरशिप कैसे ले? – Apply Form Full Details, Electric Scooter Dealership In India – How to Apply


Table of Contents

इलेक्ट्रिक वाहन डीलर कैसे बनें (How to Become Electric Vehicle Dealer) in India

 Become Electric Vehicle Dealer in indai
How to Become Electric Vehicle Dealer

इलेक्टिक वाहन बाजार में विगत कई वर्षों की क्रांति, खामियों और अपग्रडेशन के बाद आखिरकार परिवहन क्षेत्र में अपना स्थान बनाया है। ऐसे में इलेक्ट्रिक वाहनों को मार्केट में बेचा जाने के साथ, बाजार में ऑटोमोबाइल शोरूम, कार वॉश और रखरखाव, ट्रैक्टर और फ्रेमिंग उपकरणों के कई सारे अवसर फिलहाल उपलब्ध हैं।

लोग अब मोटर वाहन व्यवसाय की तरफ रुख कर रहे हैं और इसके लिए हर बड़ी कंपनी खुद की डीलरशिप भी लोगों को प्रोवाइड कर रही है। आइये सबसे पहले हम सब जानते हैं ये इलेक्ट्रिक व्हीकल्स डीलरशिप क्या है? (What is Electric Dealership Hindi)

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स डीलरशिप क्या है (What is Electric Vehicles Dealership in Hindi)

वैसे तो Dealership या Distributorship बहुत ही कॉमन शब्द है जिसके बारे में थोड़ी बहुत जानकारी आपको होगा हीं ना भी है तो कोई बात नहीं। सारी कंपनियां चाहें वो छोटी हो या बड़ी अपने नेटवर्क को बढ़ाना चाहती है जिसके लिए वो अलग अलग जगहों पर अपने ब्रांड के नाम से ब्रांच ओपन करवाना चाहती है।

ये सारे कंपनियां अपने ब्रांड प्रोडक्ट या सेवाओं को बेचने के लिए प्राधिकरण देती है जिसे हम Dealership या Franchise के नाम से जानते हैं। इलेक्ट्रिक व्हीकल्स इंडस्ट्री भी जैसे जैसे बड़ी होती जा रही है लोग इससे जुड़ते जा रहे है और इलेक्ट्रिक वाहन डीलरशिप ले रहे हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

अधिकांश इलेक्ट्रिक वाहन उपभोक्ताओं के लिए संपर्क का पहला पॉइंट डीलर डीलर कर्मचारी ही होता। यह ऐसा व्यक्ति होता है जिसने उस वाहन के निर्माता कंपनी से फ्रैंचाइज़ी ले रखी है। ये तो आपको पता ही होगा यदि हमें कोई गाड़ी खरीदना हो तो हम कम्पनी के कारखाने न जाकर नजदीकी डीलर के ही जाते हैं जिसने उसकी फ्रैंचाइज़ी ले रखी है।

यह पढ़ें:- इलेक्ट्रिक व्हीकल्स खरीदने के टैक्स बेनिफिट्स पूरी जानकारी

आपको बता दें कि डीलरशिप का कारोबार वार्षिक, त्रैमासिक और मासिक बिक्री के तर्ज पर संचालित होता है। डीलरशिप का मुख्य काम ज्यादा से ज्यादा नई गाड़ियों को मार्किट में बेचने और उसके सर्विसिंग का होता है। वैसे इलेक्ट्रिक व्हीकल्स का कांसेप्ट मार्किट में नया नहीं है फिर भी इसकी डिमांड आजकल मार्किट में आई है और लगातार बढ़ती जा रही है।

इलेक्ट्रिक वाहन का लाभ- हाइब्रिड और प्लग-इन इलेक्ट्रिक वाहन ईंधन अर्थव्यवस्था में सुधार, लागत और उत्सर्जन को कम करने में बहुत ज्यादा मदद कर रहा है। अब हम जानेंगे इलेक्ट्रिक व्हीकल डीलरशिप शुरू करने के पहले उसकी कुछ मुख्य जरूरतों (requirements) क्या क्या है।

Electric Vehicle Dealer
Electric Vehicle Dealership requirements

इलेक्ट्रिक व्हीकल डीलरशिप की जरूरतों (EV Dealership Requirements)

व्हीकल डीलरशिप को स्टार्ट करने से पहले उसकी कुछ मुख्य जरूरतों के ऊपर एक बार नज़र डालते हैं।

  • एक कंपनी फ्रेंचइजी की डीलरशिप लेने के लिए आपके पास अनुमानतन 1000-2000 स्क्वायर फ़ीट जगह की जरूरत पड़ेगी। इतनी जगह यदि किसी प्राइम लोकेशन पर हो तो व्हीकल की बिक्री ज्यादा से ज्यादा होगी और डीलरशिप देने के लिए भी कंपनी ज्यादा इंटरेस्टेड दिखेगी।
  • किसी भी फ्रैंचाइज़ी की डीलरशिप लिए एक प्राइम शर्त होती है कि डीलर को व्हीकल का 1 महीने का स्टॉक आपको खरीद कर रखना होगा।
  • अच्छे और कुशल एम्प्लाइज की भी जरूरत होगी जो किसी डीलरशिप को सफल बनाने में काफी मदद करता है। आपकी अच्छी टीम आपके बिज़नेस में महत्वपूर्ण योगदान देगी इसलिए जांच परखकर ही अनुभवी लोगो की टीम बनाइये। इसके साथ कस्टमर आपका भगवान है अर्थात उपभोक्ता के साथ हमेशा ही अच्छे ढंग से पेश आएं और उनके साथ अच्छा व्यवहार करें।
  • इवी डीलरशिप लेने से पहले उस फ्रेंचाइजी पर डिटेल्ड रिसर्च कर लें। उसके बाद ही उस कंपनी के वेबसाइट पर जाकर डीलरशिप बनने के लिए दिए हुए फॉर्म को भरें।

आइये जानते हैं इलेक्ट्रिक वाहनों की डीलरशिप कैसे लें?-(How to Become Electric Vehicle Dealers) पूर्ण जानकारी हिंदी में

यह पढ़ें:- जानें इलेक्ट्रिक व्हीकल शेयर प्राइस के बारे में पूरी डिटेल्स


इलेक्ट्रिक व्हीकल्स डीलरशिप कैसे लें? ( Electric Vehicle Dealership in India)

इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए डीलरशिप लेना कोई मुश्किल काम नहीं है यह पहले के अपेक्षा बहुत ही आसान हो चुका है। पहले इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन खोलने पर 12% जीएसटी का प्रावधान था अब उसे काम करके मात्र 5% कर दिया गया है। सरकार का यह फैसला ग्रीन इंडिया की तरफ संकेत कर रहा है। अगर आप भी सोच रहे हैं डीलर बनना तो इसका लाभ उठा  सकते हैं। इसके अलावा भारत सरकार ने पहले चरण में कुछ चुनिंदा 12 जगहों को नॉमिनेट किया है जहाँ पर इलेक्ट्रिक व्हीकल्स डीलरशिप पर सब्सिडी भी दी जाएगी।

Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

सबसे पहले आपको यह खुद डिसाइड करना होगा कि आप कौन से इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी का फ्रैंचाइज़ी लेना चाहते हैं और उससे जुड़े सारे दास्तावेज भी संलग्न करके रखें।

आखिर कैसे लें इवी डीलरशिप सिंपल स्टेप्स:

  • आप जिस भी लेक्ट्रिक वाहन का डीलरशिप लेना चाहते हैं उन कंपनियों की लिस्ट आप सबसे पहले तैयार कर लें।
  • उसके बाद उसी कंपनी का वेबसाइट ओपन करे जिसका डीलरशिप लेना आपने तय किया है। इसके बाद उनके ऑफिसियल वेबसाइट के फ्रैंचाइजी वाले सेक्शन में जाएँ।

उदाहरण के लिए यदि आप हीरो मोटोकॉर्प का डीलर बनना चाहते हैं तो आपकी हीरो के फ्रैंचाइजी पेज पर जाना होगा (https://heroelectric.in/become-our-dealer/)

  • उस पेज पर जैसे ही आप लैंड करोगे वहां आपके सामने एक फॉर्म नज़र आएगा।
  • फॉर्म में दिए गए सारे डिटेल्स एक एक करने ध्यानपूर्वक और सावधानी से भरे। उदाहरण के लिए पूछे गए नाम ब्लॉक में अपना पूरा नाम दर्ज करें।
  • इसी तरह एक एक करने फॉर्म में पूछे गए सभी columns में सही सही डिटेल भरिये और सवालों का सही जानकारी भी देंगे।
  • इसके बाद आपको आपकी उम्र, शैक्षणिक योग्यता, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर और एड्रेस की जानकारी देना होगा।
  • फॉर्म में स्टेट और सिटी वाले ऑप्शन में आपको लोकेशन बताना होगा जहाँ आप अपनी फ्रैंचाइजी खोलना चाहते हैं।
  • इसके साथ में आपको ये भी बताना होगा कि जिस पर दूकान खोलना चाहते हैं वो किस प्रकार की है। खुद की है या रेंट पर है।
  • इसके साथ आप कितना इन्वेस्टमेंट करना चाहते है, इन्वेस्टमेंट के विकल्प मौजूद रहेंगे उन्हीं में से आपकी एक सेलेक्ट करना है।
  • इसके अलावा और भी कई सवाल जैसे करंट बिज़नेस क्या है, किस नाम से आप फ्रैंचाइज़ी खोलने जा रहे है और आपका टर्नओवर कितना है।
  • इसी प्रकार से और भी कई सवालों आपको मिलेंगे जिसका जवाब सही सही आपको फॉर्म में भरना होगा।

इसी तरह आप जिस भी कंपनी की चाहो उसकी फ्रैंचाइजी ले सकते हो। उस कंपनी की वेबसाइट पर जाकर इलेक्ट्रिक वाहन या चार्जिंग स्टेशन के लिए आपको पहले अप्लाई करना होगा। ठीक उसके बाद कंपनी आपके द्वारा किये गए एप्लीकेशन को रिव्यु करेगी और जल्द ही आपसे कांटेक्ट करने के कोसिस भी करेगी।

सबकुछ फाइनल हो जाने के बाद कंपनी के कुछ एम्प्लॉई आपके एरिया का निरक्षण करेगी। कंपनी आपकी डीलरशिप फाइनल तब करेगी जब तहकीकात के बाद आपके ऊपर उन्हें भरोसा हो जाएगा। जैसे ही आपकी प्रोफाइल अप्रूव हो जाती है उसके बाद आपको डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रोसेस से गुजरना होगा। हर कंपनी की अपनी कुछ शर्तें होती हैं उनका भी आपको खास ख्याल रखना होगा।

यह पढ़ें:- बैटरी स्वैपिंग नीति क्या है और यह हमारे लिए कैसे फायदेमंद है

सभी डॉक्यूमेंशन की प्रोसेस हो जाने के बाद आपको डीलर शिप मिल जाएगी जिसके बाद इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ आप अपनी खुद की शॉप खोल सकते हैं। एक बार कम्पनी के साथ जुड़ जाने के बाद आपको वो सारी फैसिलिटी प्रोवाइड करेंगे।

यहाँ पे कुछ इलेक्ट्रिक वाहन डीलरशिप कंपनियों की लिस्ट दी गयी जिसमे बताया गया है कैसे आप उनकी डीलरशिप ले सकते हैं।

ये तो हुई डीलरशिप की बात अब जानतें हैं कि इलेक्ट्रिक व्हीकल्स हमारे लिए कैसे फायदेमंद साबित होने वाला है। इलेक्ट्रिक वाहन का लाभ- हाइब्रिड और प्लग-इन इलेक्ट्रिक वाहन ईंधन अर्थव्यवस्था में सुधार, लागत और उत्सर्जन को कम करने में लगातार मदद कर रहा है।


इलेक्ट्रिक व्हीकल्स डीलरशिप के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट (Important Documents for EV Dealership)

किसी कंपनी के फ्रैंचाइज़ी खोलने के लिए कुछ जरूरी दस्तावेज की जरूरत भी पड़ती है। इसमें पर्सनल डॉक्यूमेंट और अन्य डॉक्यूमेंट भी शामिल है। इलेक्ट्रिक वाहन डीलरशिप के लिए जरूरी दस्तावेज नीचे दिए गए हैं जैसे:

Personal Document जैसे :

  1. ID Proof :- Aadhaar Card , Pan Card , Voter id Card
  2. Address Proof :- Ration Card , Electricity Bill,
  3. Bank Account Details With Passbook
  4. Photograph Email ID, Phone Number 
  5. Other Document  
  6. Financial Document
  7. GST Number

Property Document (PD) जैसे:

  • Complete Property Document With Title & Address
  • Lease Agreement
  • NOC

यह भी पढ़ें: पीएलआई योजना क्या है


इलेक्ट्रिक स्कूटर Dealership में आने वाला खर्चा (Expense to Open Electric Vehicle Dealership)

जैसा की आप सभी जानते हैं किसी भी कंपनी की डीलरशिप लेने के लिए कुछ न कुछ शुरुआती पूंजी जरूर लगाना होता है या यूं बोलें तो शुरआत में खर्चा जरूर करना पड़ता है। ऐसा इसलिए ताकि हम अपने बिज़नेस की शुरुआत अच्छे ढंग से कर सकें।

एक बार डीलरशिप मिल जाने के बाद आपकी दुबारा ज्यादा प्रोब्लम नहीं आती है। अब जिम्मेदारी कंपनी की हो जाती है और बाद में चलकर प्रॉब्लम का सॉल्यूशन कम्पनी ही देती है। इलेक्ट्रिक व्हीकल डीलरशिप लेने के लिए पैसे के मामले में देखें तो शुरुआत में 10- 30 लाख रुपए का खर्च लग जाता है।


इलेक्ट्रिक वाहन डीलरशिप प्रॉफिट मार्जिन (Profit Margin Of EV Dealership)

Profit Margin in Electric Agency Dealership in India के तहत अलग अलग प्रोडक्ट्स पर अलग अलग प्रकार की प्रॉफिट मार्जिन दिया जाता है। इसमें से कई बड़े तो कई छोटे मार्जिन्स होते हैं। ज्यादतर प्रॉफिट मार्जिन की बात डीलरशिप लेने की दौरान ही हर ली जाती है। यदि आपको और भी कुछ जानकारी चहिये होता है तो कंपनी के हेल्पलाइन नंबर पर कांटेक्ट करके पता लगा सकते हैं।

यदि इलेक्ट्रिक वाहन की Return on investment की बात करे तो ये सारा खेल आपको agency location, city, sale strategies and promotion के ऊपर टोटली निर्भर करता है। वैसे तो कंपनी अपने सारे प्रोडक्ट्स पर कमीशन देती है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Staff Requirement For Electric Vehicle Dealership

डीलरशिप एजेंसी के अन्दर हमारे पास कई सारे छोटे बड़े काम होते हैं और उसके लिए अलग अलग स्टाफ की जरुरत भी पड़ती है। कुछ कॉमन स्टाफ़स की लिस्ट दी गयी है:

  • Manager
  • Sales Coordinator
  • Sales Consultant,
  • Technicians,
  • Supervisor,
  • Workshop Manager,
  • Service Advisor,
  • Sales Persons,
  • Store Incharge
  • Manpower required to run & manage a dealership showroom.
  • Maintenance Staffs

इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप के लिए ट्रेनिंग (Electric Vehicle Dealership Training)

आपके सारे employee जो इस डीलरशिप के दौरान काम करने वाले हैं, उन सभी को कंपनी पूरी तरह से फ्री में ट्रेनिंग देती है। जो आप के साथ डीलरशिप पर काम करने वाले है लोग जैसे ओनर, मैनेजर, सलेर, सुपरविजर और मेकेनिक तक को फ्री में ट्रेन कंपनी के द्वारा ही किया जाता है। 


इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म [Apply For Electric Scooter Dealerhsip]

यदि आप भी इलेक्ट्रिक व्हीकल की डीलरशिप चाहते हैं तो इसके लिए आपको इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म अप्लाई करना होगा। आपको जिस भी कंपनी की डीलरशिप लेना है उसके आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Dealership Apply Form को भरना होगा। कुछ फेमस इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माता कंपनियों के डीलरशिप फॉर्म निचे लिस्टेड किया गया है: – 

Electric Vehicle CompanyDealership Online
हीरो इलेक्ट्रिक डीलरशिप फॉर्म Apply Now
ओकिनावा इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म Apply Now
Ampere इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म Apply Now
Komaki इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म Apply Now
Pure EV इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म Apply Now

ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप फॉर्म: कई सारे लोगों के मन में ओला इलेक्ट्रिक डीलरशिप को लेकर भी सवाल आते हैं। लेकिन आपको यह बता दें की फिलहाल ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर अभी किसी प्रकार की कोई डीलरशिप नहीं दे रही है। सारे इलेक्ट्रिक स्कूटर्स कंपनी फिलहाल ऑनलाइन ही बेच रही हैं।

हालांकि ओला इलेक्ट्रिक ने अब बड़े बड़े शहरों में अपना एक्सपीरियंस सेंटर खोलने पर जोड़ दे रही है। ऐसे में ओला के अब फैसला किया है को वो अपने स्कूटर्स को ऑफलाइन मोड में भी बेचेंगी। इससे कस्टमर्स से डायरेक्ट जुड़ाव होगा। ओला के एक्सपीरियंस सेंटर पर जाकर ग्राहक स्कूटर के बारे में जानकारी ले पाएंगे। इसके साथ ही टेस्ट ड्राइव और खरीददारी भी कर पाएंगे।

Ola experience centre image
Ola experience centre

दरअसल ओला की तरफ से एक्सपीरियंस सेंटर को खोलने को लेकर 11 बड़े शहरो का नाम दिया है। इन शहरों की लिस्ट में बेंगलुरू, पुणे, अहमदाबाद, भोपाल, देहरादून, दिल्ली, हैदराबाद, कोटा, नागपुर, रांची और वदोडरा शामिल हैं।

यदि आप भी ओला एक्सप्रिएंस सेण्टर ओपन करना चाहते है तो ओला कंपनी को डायरेक्ट कांटेक्ट कर सकते है Ola Electric Contact

🔥  Whatsapp Group👉 यहाँ क्लिक करे
🔥 Telegram Group👉 यहाँ क्लिक करे

यह भी पढ़ें:


FAQs (Frequently Asked Questions)

Q1. भारत में इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप कैसे प्राप्त करें?

भारत में इलेक्ट्रिक स्कूटर की डीलरशिप प्राप्त करने के लिए सभी कंपनियों का सामान्य प्रक्रिया है. आपको डीलरशिप के लिए आवेदन पत्र डाउनलोड करना और भरना है। फिर मुख्यालय जाकर संपर्क कर सकते हैं।

Q2. क्या भारत में इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप के लिए पंजीकरण करने की आवश्यकता है?

Ans:भारत में जिस इलेक्ट्रिक स्कूटर की शीर्ष गति 25 किमी / घंटा तय की गई है या जिसकी मोटर 250W या उससे कम है, उसके लिए डीलरशिप के लिए पंजीकरण करने की आवश्यकता नहीं है.

Q3. इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप से कितना कमाया जा सकता है ?

Ans: महीने का 2 से 3 लाख इलेक्ट्रिक स्कूटर डीलरशिप के जरिए आसानी से कमा सकते है। 

Q4. इलेक्ट्रिक स्कूटर की डीलरशिप में कितना खर्चा आता है? 

Ans: डीलरशिप लेने में लगभग 10 से 30 लाख रुपए का खर्चा आ जाता है।


निष्कर्ष (Conclusion)

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर्यावरण के लिए बेहद ही लाभदायक हैं। इसके साथ यह बढ़ती डीज़ल, पेट्रोल की कीमतों के आगे एक अच्छा विकल्प भी है। इवी को सरकार भी बढ़ावा दे रही है ताकि तेल के इम्पोर्ट पर से निर्भरता कम हो सके।

2030 तक भारत सरकार का विजन है इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को पुरे व्हीकल सेल्स का 30% शेयर तक पहुँचाना। देखा जाए तो निश्चित तौर पर इलेक्ट्रिक व्हीकल्स का देश में भविष्य उज्जवल है। और अब हमसबों का भी ये कर्तव्य बनता है कि इलेक्ट्रिक व्हीकल की ओर अपना कदम जरूर बढ़ाएं।

आशा करता हूँ आप सभी पाठकों को हमारा यह पोस्ट इलेक्ट्रिक वाहनों की डीलरशिप कैसे लें और इवी डीलर कैसे बनें | How to Become Electric Vehicle Dealer in India काफी हद तक पसंद आया होगा। इसके माध्यम से हमने टॉपिक से जुड़ी सटीक जानकारी आप सभी तक पहुचाने का प्रयास किया है।

यदि इस पोस्ट में किसी भी प्रकार का कोई त्रुटि हो तो आप हमसे संपर्क जरूर करें। इसके अलावा आप अपनी राय और सुझाव भी हमें कमेंट करके दे सकते हैं।

धन्यवाद:)


Follow us On Google News

How to Become Electric Vehicle Dealer in India

संकल्प करें, इलेक्ट्रिक चुनें

From (Patna, Bihar) Rahul is the founder of blog Ecovahan. Computer Science Engineer and Passionate Blogger. संकल्प करें इलेक्ट्रिक चुनें

2 thoughts on “Electric Scooter की डीलरशिप कैसे ले? और इवी डीलर कैसे बनें | How to Become Electric Vehicle Dealer in India – Apply Form”

  1. Sir l am Ashokk ,ma electric scooter ki delership layna chata Hu, my address sec 38 (west)Chandigarh ,Dadu majra colony,Booth no 723, market may hai,size 10×25 hai,my mo 9988729870

    Reply

Leave a Comment

खुशखबरी: नितिन गडकरी के इस फैसले से सरकार बल्ले-बल्ले, लोगों को बड़ी राहत होंडा का धमाका! ई-स्कूटर निर्माता कंपनियों की उड़ाई नींद, इस दिन आ रही Activa Electric Hero Vida का इंतज़ार ख़त्म! दिल्ली में शुरु हुई डिलीवरी Honda Activa को टक्कर देने आ रही 100km रेंज वाली इलेक्ट्रिक स्कूटर Ola दे रही 15 हज़ार रूपये का बम्पर डिस्काउंट,जल्दी करें